VIDEO: पीएम मोदी ने निभाया विराट से किया वादा, अब इस वुुमेन प्लेयर को दिया चैलेंज

0

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के दिए फिटनेस चैलेंज को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरा कर दिया है और इसे आगे बढ़ाते हुए कॉमनवेल्थ खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा को बढ़ा दिया है. दरअसल, केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने टि्वटर पर एक वीडियो शेयर कर इस फिटनेस चैलेंज की शुरुआत की थी. राठौड़ ने सोशल मीडिया पर कसरत करते हुए ‘हैशटेग फिटनेस चैलेंज’ के साथ अपनी तस्वीर और वीडियो शेयर की थी, जिसके बाद यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. राठौड़ के फिटनेस चैलेंज को पूरा करते हुए विराट कोहली ने अपने फिटनेस का एक वीडियो शेयर किया था. 

विराट कोहली ने वर्कआउट का एक वीडियो शेयर किया था. विराट ने ट्वीट में लिखा था, “मैंने राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के फिटनेस चैलेंज को स्वीकार कर लिया है. सर, मैं अब अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी और एम.एस धोनी भाई को चुनौती देता हूं. हम फिट तो इंडिया फिट. हैशटैग कमआउट एंड प्ले.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के एक फिटनेस चैलेंज को स्वीकार करते हुए कहा कि वह जल्द ही अपना निजी फिटनेस वीडियो साझा करेंगे और अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना फिटनेस वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया है. 

पीएम मोदी ने इस वीडियो को शेयर करने के साथ एक ट्वीट किया- मुझे खुशी है कि मुझे फिटनेस चैलेंज के लिए नॉमिनेट किया गया. उन्होंने अपना वीडियो शेयर करते हुए कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारास्वामी और भारत की शान, कॉमनवेल्थ 2018 में गोल्ड मेडल जीतने वाली टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा को फिटनेस चैलेंज दिया है. साथ ही पीएम मोदी ने देश सभी बहादुर आईपीएस अफसरों को यह चैलेंज दिया है, खासकर 40 साल से ऊपर. 

बता दें कि भारत की नंबर वन टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने कॉमनवेल्थ खेलों में चार पदक हासिल किए. 22 साल की दिल्ली की खिलाड़ी मनिका ने टेबल टेनिस के सिंगल्स में गोल्ड जीता था. महिलाओं की टीम इवेंट में गोल्ड, महिला डबल्स मुकाबले में सिल्वर और मिक्स्ड डबल्स में ब्रॉन्ज मेडल जीता था. यानी उनकी झोली में दो गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल आया.

खेल के लिए ठुकराई थी मॉडलिंग
दिल्ली के नारायणा विहार की रहने वाली मनिका का जन्म 15 जून 1995 को हुआ. चार वर्ष की उम्र में ही उन्होंने टेबल टेनिस खेलना शुरू कर दिया. कहा जाता है कि मनिका को शुरुआती दौर में मॉडलिंग के कई अवसर मिले, लेकिन उन्होंने मॉडलिंग को नहीं बल्कि खेल को चुना. इतना ही नहीं उन्होंने 16 साल की उम्र में स्वीडन में पीटर कार्लसन अकादमी में प्रशिक्षण की स्कॉलरशिप को भी ठुकरा दिया.

2011 में मनिका बत्रा ने चिली ओपन में अंडर-21 श्रेणी का सिल्वर मेडल अपने नाम किया था. उन्होंने 2014 राष्ट्रमण्डल खेलों तथा 2014 एशियाई खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व किया था जहां क्रमशः वह क्वार्टरफाइनल तथा तीसरे दौर तक पहुँच सकी.

तिरंगे वाले नेलपेंट से भी बटोरीं थी सुर्खियां
ऑस्ट्रेलिया के गोल्डकोस्ट में जब वह गोल्ड के लिए खेल रही थीं, तब उन्होंने तिरंगे के रंगों वाला नेलपेंट लगा रखा था. इसके लिए सोशल मीडिया पर उनकी जमकर तारीफ हुई. इससे पहले रियो ओलंपिक और अन्य मुकाबलों में भी वो ऐसा कर चुकी हैं. 

देखे विडियो:-